ज़िआ उर रहमान बर्क़ बने सिसौना गाँव के दामाद

ज़िआ उर रहमान बर्क़
हाल में ही संभल में ज़िआ उर रहमान बर्क़ का विवाह (मरहूम) मुंशी अंसार हुसैन की पोती तूबा हफ़ीज़ से संपन्न हुआ है! मगर काफी संभल वासी इस अचरज में हैं की आखिर ज़िआ उर रहमान बर्क़ सिसौना गाँव के दामाद कैसे बन गए हैं ! इसके लिए हम आपको बता दें की मुंशी अंसार हुसैन मूल रूप से सिसौना गाँव के ही रहने वाले थे जो की अपनी शादी के बाद संभल आकर बस गए थे और वहीँ उनके बड़े भाई मुंशी ज़ुल्फ़िकार हुसैन को भी संभल आकर बसना पड़ा जब उनके छोटे बेटे आशकार हुसैन का तबादला संभल शहर को हो गया था !

सिसौना गाँव के रहने वाले मुंशी अंसार हुसैन और कोई नहीं बल्कि बहादुर खां के बड़े बेटे मौलवी इनायत अली खां के सगे पोते हैं! हाल ही में २ जनवरी २०२० को उनकी पोती और हाजी हफ़ीज़ जी की छोटी पुत्री तूबा हफ़ीज़ से जिआ उर रहमान बर्क़ का विवाह संपन्न हुआ है! 

Powered by Blogger.